गंदगी में जीवन यापन को मजबूर हैं खादर निवासी

राजधानी दिल्ली के ओखला में मदनपुर खादर एक्सटेंशन के लोग गंदगी में जीवन यापन को मजबूर हैं। बात दरअसल यह है कि यहां दूर दूर तक कोई कूड़ा दान या कूड़ा घर नहीं है। और न ही यहां नियमित रूप से mcd का कोई कूड़ा गाड़ी कूड़ा लेने आती है। मजबूरन लोग बाद अपने अपने घरों का कूड़ा अगल बगल में खाली पड़े प्लॉट में फेंकते हैं। ये कूड़ा हवा से उड़कर लोगों के घरों में भी आ जाते हैं। गंदगी के जमा होने से लोग बाग विभिन्न बीमारियों से भी ग्रस्त हो जाते है। 
स्थानीय लोगों से जब बात की गई तो पता चला कि कूड़ा गाड़ी महीना 2 महीना में कभी इस क्षेत्र में आता है और आधा अधूरा कूड़ा उठा कर चलता बनता है। गंदगी के जमा होने से क्षेत्र के निवासियों की स्थिति नारकीय है। इस क्षेत्र की सफाई व्यवस्था को देखकर तो भारत सरकार का स्वच्छता अभियान दम तोड़ता नज़र आता है।