स्वदेश के प्रधान संपादक राजेंद्र शर्मा को पत्रकारिता भूषण सम्मान

लोकेंद्र सिंह

उत्तरप्रदेश सरकार के प्रतिष्ठान उप्र हिंदी संस्थान ने वर्ष 2019 के लिए अपने प्रतिष्ठित सम्मानों/पुरस्कारों की घोषणा कर दी है। विभिन्न कला विधाओं में दिए जाने वाले इन सम्मानों के अंतर्गत पत्रकारिता क्षेत्र में उत्कृष्ट अवदान के लिए स्वदेश पत्र समूह भोपाल के अध्यक्ष व प्रधान संपादक राजेन्द्र शर्मा को चुना गया है। उन्हें पत्रकारिता भूषण से सम्मानित किया जा रहा है। इसके अंतर्गत दो लाख रुपए के साथ ही स्मृति चिह्न और प्रशस्ति पत्र दिया जाएगा।  

इसके साथ ही संस्थान का भारत-भारती सम्मान मुंबई की कवयित्री सूर्यबाला तथा हिंदी गौरव सम्मान वरिष्ठ साहित्यकार व पत्रकार तरुण विजय को प्रदान किया जा रहा है। अन्य क्षेत्रों में मध्यप्रदेश से सम्मानित होने वाली प्रतिभाओं में डॉ.कपिल तिवारी ( अवंतिबाई साहित्य सम्मान), डॉ. रामेश्वर मिश्र पंकज (महात्मा गांधी साहित्य सम्मान), डॉ. विनय  राजाराम (साहित्य भूषण सम्मान) शामिल हैं। 

पचहत्तर वर्षीय राजेंद्र शर्मा गत 54 वर्षो से पत्रकारिता के क्षेत्र में सतत सक्रिय हैं। उन्होंने पांच दशक पहले ग्वालियर में हमारी आवाज से पत्रकार के रूप में पत्रकारिता की यात्रा प्रारंभ की, जिसके बाद मात्र पच्चीस वर्ष की आयु में ही स्वदेश के संपादन का कार्यभार संभाल लिया.। इसके बाद आप इसी समूह के प्रधान संपादक बने। श्री शर्मा ने बाद में भोपाल से स्वदेश का प्रकाशन प्रारंभ कर इसका विस्तार किया। आप पिछले चार दशक से स्वदेश पत्र समूह भोपाल के प्रधान संपादक हैं। यह समूह भोपाल, रायपुर, बिलासपुर, सागर व जबलपुर से संस्करण प्रकाशित करता है। श्री शर्मा साहित्य अनुरागी भी हैं और विभिन्न सामाजिक सेवाओं में सक्रिय सहभागिता करते रहे हैं। 

पत्रकारिता की सुदीर्घ व उत्कृष्ट सेवाओं के लिए उन्हें माखनलाल चतुर्वेदी राष्ट्रीय पत्रकारिता विश्वविद्यालय का गणेश शंकर विद्यार्थी सम्मान व मध्यप्रदेश शासन का माणिकचंद्र वाजपेयी सम्मान भी मिल चुका है। इसके अतिरिक्त वे अयोध्या के पं. रामकिंकर उपाध्याय सम्मान से भी सम्मानित किए जा चुके हैं।  पत्रकारिता भूषण सम्मान उप्र के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के हाथों प्रदान किया जाएगा जो संस्थान के अध्यक्ष भी हैं।